YouTube ला रहा Shorts ऐप, जो देगा TikTok को टक्कर || Ajsip.xyz

YouTube ला रहा Shorts ऐप, जो देगा TikTok को टक्कर || Ajsip.xyz



YOUR WELCOME 

तो नमस्ते दोस्तों मेरा नाम "अमन गुप्ता" है और मैं आप सभी लोगों का स्वागत करता हूं अपने इस ब्लॉगर वेबसाइट पर ||




तो दोस्तों आज किस पोस्ट में ही मैं आप सभी लोगों को बताऊंगा कि यूट्यूब शॉर्ट्स क्या सच में पीछे कर देगा टिक टॉक को तो पूरी जानकारी के लिए आप सभी लोगों को यह पोस्ट पूरा पढ़ना होगा तो चलिए पोस्ट पढ़ना स्टार्ट कीजिए ||

तो दोस्तों आप सभी लोग जानते हैं, कि टिक टॉक 2016 में चाइना में लांच किया गया था, इसे जब लांच किया गया था तो इसका नाम टिक टॉक नहीं इसका नाम म्यूजिकली था, और 2018 में इसे ग्लोबल लॉन्च कर दिया गया था ग्लोबल लॉन्च  मतलब पूरे विश्व में इसे टिक टॉक के नाम से लांच कर दिया गया था.

इंडिया में तो यह कुछ इस कदर फैला जैसा कि कोरोनावायरस फैल रहा है. इस वक्त पूरे पृथ्वी पर उसी तरह यह टिक टॉक भी 2018 में फैला था पूरे इंडिया में |


क्यों पीछे कर देगा यूट्यूब शॉर्ट्स टिक टॉक को


तो भाई लोग देखो यूट्यूब तो एक बहुत ही बड़ा प्लेटफार्म में है. जहां पर आप फनी वीडियोस, म्यूजिक, टेक  जानकारी, मूवीस, ऑल टाइप के वीडियोस देख सकते हैं. यूट्यूब पर लेकिन आप सभी लोग टिक टॉक पर बस फनी वीडियो और भी कई तरह के वीडियो देख सकते हैं.

बस 60  सेकेंड तक के वीडियोस को आप देख सकते हैं. लेकिन यूट्यूब शॉर्ट्स पर  भी आप  60  सेकंड तक भी आप वीडियो देख सकते हैं लेकिन यूट्यूब शॉर्ट्स के पास पूरी तरह के म्यूजिक है मतलब कि मेरा कहने का यह है कि यूट्यूब के पास हर म्यूजिक का लाइसेंस है. जैसा कि आप सभी लोगों को पता ही है. कोई भी म्यूजिक लॉन्च होता है तो पहले यूट्यूब पर ही लांच होता है लॉन्च मेरा मतलब है कि लोगों के बीच यह यूट्यूब के माध्यम से ही आता है.

और लोग यूट्यूब पर ही कोई भी म्यूजिक देखते हैं. कोई भी मूवी देखते हैं और कोई भी कॉमेडी वीडियो देखते हैं लेकिन टिक टॉक के पास कोई भी म्यूजिक का लाइसेंस नहीं है जिसकी वजह से यूट्यूब शॉट से टिक टॉक को पीछे कर देगा।


किसके यूजर अधिक हैं टिक टॉक के या फिर यूट्यूब के


तो भाइयों देखा जाए यूट्यूब से ज्यादा लोग टिक टॉक को यूज करते हैं. मैं मानता हूं कि सभी लोगों के मोबाइल में यूट्यूब ऑलरेडी होता है। लेकिन तब पर भी यूजर्स यूट्यूब को छोड़कर टिक टॉक की ओर आकर्षित बहुत ज्यादा होते है  क्योंकि इस पर 60 सेकंड तक की वीडियोस होती है. और वह फनी फनी वीडियोस होती थी.
लेकिन आप वही फनी फनी वीडियो यूट्यूब पर देखेंगे तो आप सभी लोगों को अपना 5 मिनट या फिर 7 मिनट 10 मिनट तक का टाइम देना पड़ेगा आपको उस वीडियो को देखने के लिए ||


टिक टॉक को टक्कर देने के लिए आया यूट्यूब शॉर्ट्स


गूगल की लोकप्रिय वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस यूट्यूब एक नए प्रोडक्ट को लांच करने की तैयारी कर रहा है एक जगत के मुताबिक यूट्यूब टिक टॉक को टक्कर देने के लिए एक प्रोडक्ट पर काम कर रहा है इस ऐप का नाम यूट्यूब शॉर्ट्स हो सकता है वीडियो क्रिएटिंग एप टिक टॉक पिछले साल से यूजर्स के बीच में काफी लोकप्रिय हो रहा है बता दें कि टिक टॉक गूगल प्ले स्टोर पर व्हाट्सएप के बाद सबसे ज्यादा डाउनलोड किए जाने वाला ऐप है ||


छोटे वीडियो पोस्ट कर पाएंगे


टिक टॉक से मुकाबला करने के लिए यूट्यूब कि यह सर्विस यूट्यूब शॉर्ट्स के नाम से लांच की जा सकती है. यह ऐप यूट्यूब के साथ ही काम करेगा यूट्यूब शॉर्ट्स की मदद से उपयोगकर्ता छोटे वीडियोस पोस्ट कर पाएंगे माना जा रहा है. कि यूट्यूब का फीचर टिक टॉक के खिलाफ ट्राम कार्ड माना जा रहा है यह फ्यूचर को शॉर्ट वीडियो बनाने के लिए लाइसेंस म्यूजिक प्रोवाइड कर पाएगा यूट्यूब पर यूजर काफी संख्या में वीडियो स्ट्रीम करते हैं ऐसे में फीचर तेजी से लोकप्रिय हो सकता है कई देशों में टिकटोक शॉर्ट्स वीडियो शेयरिंग एप के रूप में काफी लोकप्रिय है।


4 साल पहले टिकटोक ने चीन में दी थी दस्तक


टिक टॉक को चीन में साल 2016 में लांच किया गया था और 2018 में इसे ग्लोबल लॉन्च किया गया था टिकटोक को शुरुआत में म्यूजिक अली के नाम से लांच किया गया था बाद में कंपनी ने इसका नाम बदलकर टिक टॉक कर दिया था इस ऐप के जरिए यूजर 60 सेकंड तक के वीडियो बनाकर शेयर कर सकते हैं.



यूट्यूब शॉर्ट्स लगा एगा टिक टॉक की व्हाट


देखा जाए तो टिक टॉक पर वीडियो बनाने वाले लोगों को टिक टॉक एक परसेंट भी कमाई  का मौका नहीं देता है. केवल फेमस होने का मौका देता है. लेकिन माना जा रहा है कि यूट्यूब शॉर्ट्स पर जो बंदा वीडियो बनाएगा उसका अकाउंट मोनेटाइज हो जाएगा तू यूट्यूब उस से वीडियो बनाने का भी पैसा देगा ऐसे में जितने भी यूजर्स रहेंगे वह टिक टॉक को छोड़कर यूट्यूब शार्ट से पर वीडियो बनाना शुरु कर देंगे क्योंकि टिक टॉक तो कोई पैसा नहीं देता है वीडियो अपलोड करने का लेकिन यूट्यूब जो है वह यूजर्स को फेमस होने के साथ-साथ पैसा भी देगा तो ऐसे में यूट्यूब शॉर्ट्स टिक टॉक का वाट लगा सकता है।

मोनेटाइज क्या होता है

तो दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जानते हो कि हम सब यूट्यूब पर वीडियो देखते हैं तो हमें उन वीडियो को देखने से पहले एक ऐड देखनी पड़ती है वही एक्स का पैसा मिलता है उस बंदे को जिसकी वीडियो हम देख रहे हैं क्योंकि उसका यूट्यूब चैनल मोनेटाइज होता है गूगल के साथ मोनेटाइज इसका अर्थ होता है ऐड दिखाने के लिए तैयार मोनेटाइजेशन दो तरह का होता है.

एक तो यूट्यूब वीडियोस पर आपने ऐड देखे होंगे और आपने कभी भी कोई आर्टिकल गूगल पर सर्च कर कर पढ़ते हैं तो आपको ऐड देखने को मिलता है तो एक यूट्यूब चैनल पर मोनेटाइजेशन मिलता है और एक वेबसाइट पर मोनेटाइजेशन मिल देखने को मिलता है और भी काफी ऐप्स पर भी आपने ऐड देखे होंगे वह ऐप भी गूगल के जरिए मोनेटाइज होता है एप्स बनाने वाले को पैसे मिलते हैं.

यह पैसा गूगल देता है गूगल का एक और प्रोडक्ट है जिसका नाम गूगल ऐडसेंस है. गूगल ऐडसेंस के थ्रू लोगों के बीच में ऐड दिखाए जाते हैं और लोगों को ऐड दिखा कर पैसे भी दिया जाता है क्रिएटर्स को जो लोग यूट्यूब और गूगल के साथ काम करते हैं



तो भाइयों मैं उम्मीद करता हूं कि आप सभी लोगों को मेरा यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर मेरा यह पोस्ट आप सभी लोगों को पसंद आया तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और उनको भी यूट्यूब शॉर्ट्स के बारे में जरूर बताएं ताकि वह भी एक्साइटमेंट हो जाए यूट्यूब शॉर्ट्स को लेकर तो भाइयों मैं मिलता हूं अपने नेक्स्ट पोस्ट में तब तक के लिए बाय बाय अपना ध्यान रखिएगा


#onthetech #ajsip.xyz #youtube #tiktok



0 Response to "YouTube ला रहा Shorts ऐप, जो देगा TikTok को टक्कर || Ajsip.xyz"

Post a comment