क्यों लोगों के लिए हवाई अड्डे में वर्तमान हवाई जहाज आरआईएस भदौरिया मौजूद है?


बुधवार दोपहर पर्ल हार्बर में अमेरिकी सेना के ठिकाने पर एक हमलावर ने गोलीबारी की। इसमें उसने 2 रक्षा विभाग के कर्मचारियों को मार दिया। हालांकि, एक की हालत गंभीर है। अधिकारियों के मुताबिक, हमलावर ने फायरिंग के बाद खुद को गोली मार ली। पुलिस ने उसकी पहचान अमेरिकी नौसेना के रूप में की है। घटना के समय भारतीय वायु सेना के एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदोरिया पर्ल हार्बर में थे। आरकेएस भदौरिया इंडो-पैसिफिक क्षेत्र के अधिकारियों के साथ एक कार्यक्रम में भाग ले रहे थे। भारतीय वायु सेना के सभी अधिकारी सुरक्षित हैं। घटना के बाद आधार पूरी तरह से बंद हो गया था। केवल पुलिस और सैन्य दल के वाहनों को ही अंदर जाने की अनुमति है।

पर्ल हार्बर भारतीय भारत-प्रशांत महासागर क्षेत्र की टुकड़ी के लिए जहाजों और पनडुब्बियों का आधुनिकीकरण करता है। इसके अलावा, उनकी मरम्मत और रखरखाव भी यहां बनाए रखा जाता है। पर्ल हार्बर में लगभग 10 अमेरिकी नौसैनिक युद्धपोत और 15 पनडुब्बियां हैं। 

आकाशवाणी के चैम्बर में बैठने के लिए आकाशवाणी की सीमाएं निर्धारित की गई हैं 

एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया भारतीय प्रशांत महासागर क्षेत्र के वायु सेना प्रमुखों के लिए अमेरिका द्वारा आयोजित प्रशांत एयर चीफ संगोष्ठी (PAX 2019) कार्यक्रम में हिस्सा लेने गए हैं। यह सम्मेलन क्षेत्रीय सुरक्षा और सहयोग बढ़ाने के लिए नई योजनाओं को आकार देता है। इस सम्मेलन में अमेरिका के अलावा 20 देशों के एयर चीफ मार्शल मौजूद हैं।

Post a Comment

0 Comments